जयपुर। राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने आज नरेगा को लेकर कहा कि नरेगा में आज राजस्थान में करीब 11 लाख लोग कार्य कर रहे हैं और आज इसी के चलते पूरे देश में नरेगा में श्रमिकों को रोजगार देने में राजस्थान का दूसरा स्थान आया है।

लॉकडाउन में जो स्थिति बनी हैं उसमें लोगों को रोजगार कम है अर्थव्यवस्था चरमरा गयी हैं इस अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए नरेगा एक ऐसा स्रोत है जिससे ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे लोगों को आर्थिक मदद पहुँचा सकते हैं। हमें खुशी है कि आज से दस दिन पहले नरेगा में जो श्रमिकों की संख्या 60 हजार थी वो 11 लाख तक पहुँच गयी है।

उन्होंने कहा कि इसमें हमारे विभाग के तमाम कर्मचारियों ने, जनप्रतिनिधियों ने बहुत सहयोग किया है। ग्रामीण क्षेत्रों में 80 प्रतिशत कार्य हो रहा है वो स्वतंत्र कार्य हो रहे हैं। लोग अपने खेतों में, घरों में काम कर रहे हैं उसका भुगतान उनको मिल रहा है और सोशल डिस्टेंसिन्ग मेंटेन करते हुए कार्य कर रहे हैं। नरेगा से बहुत तागत और बल हमारे ग्रामीण परिवेश में रहने वाले लोगों को मिल रहा है हम उम्मीद करते हैं इस संख्या को आने वाले दिनों में और बढ़ायेंगे।